सिंगापुर में लगा ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर बैन, विवेक अग्निहोत्री ने क्या कहा

Spread the love with your friends

नई दिल्ली: भारत में रिकॉर्ड तोड़ कमाई करने वाली “द कश्मीर फाइल्स” फिल्म को सिंगापुर में बैन कर दिया गया। फिल्म पर समुदायों के बीच वैमनस्य फैलाने की संभावना के कारण बैन लगा दिया गया है। सिंगापुर की सरकार का कहना है कि फिल्म में मुसलमानों का एक पक्षीय और भड़काऊ चित्रण किया गया है।

फिल्म पर प्रतिबंध लगाते हुए एक बयान में सिंगापुर सरकार ने कहा, “फिल्म में मुसलमानों के भड़काऊ और एक पक्षीय चित्रण और कश्मीर में जारी संघर्ष में हिन्दुओं के उत्पीड़न के चित्रण की वजह से अनुमति नहीं दी जाएगी।” सिंगापुर सरकार ने कहा कि इस चित्रण से समुदायों के बीच वैमनस्य फैलने की और हमारे बहुजातीय और बहुधार्मिक समाज में सामाजिक एकजुटता और धार्मिक समरसता के भंग होने की संभावना है। द कश्मीर फाइल्स कश्मीरी पंडितों के दर्द यातनाओं और पलायन पर बनी है।

भारत में भी फिल्म पर काफी विवाद हुआ लेकिन समर्थन भी खूब मिला। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्मीर फाइल्स की तारीफ की। वहीं, कई बीजेपी शासित राज्यों में फिल्म को टैक्स फ्री कर दिया गया था। लेकिन आलोचकों का कहना है कि उसमें तथ्यों को गलत ढंग से पेश किया गया है और वह मुस्लिम विरोधी भावनाएं भड़काती है।

फैसले पर विवेक अग्निहोत्री ने क्या कहा

सिंगापुर में बैन की खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए फिल्म के निर्देशक विवेक रंजन अग्निहोत्री ने सिंगापुर को दुनिया का सबसे प्रतिगामी देश बताया। अग्निहोत्री ने यह भी दावा किया है कि फिल्म अमेरिका और इस्राएल जैसे देशों में सफलतापूर्वक चल रही है।

सिंगापुर की संसद में हुई थी नेहरू की तारीफ

कुछ ही महीनों पहले सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली शिन लॉन्ग ने देश की संसद में एक बहस के दौरान कहा था कि भारत की लोकसभा में लगभग आधे सांसदों के खिलाफ आपराधिक मामले चल रहे हैं। जो नेहरू के भारत से अब तक की लोकतांत्रिक राजनीति में हुए पतन का संकेत है।

इसके बाद भारतीय विदेश मंत्रालय ने भारत में सिंगापुर के राजदूत को तलब किया और उनके प्रधानमंत्री की टिप्पणी पर आपत्ति दर्ज कराई।


Spread the love with your friends

Leave a Comment

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com