श्रीलंका में हिंसक प्रदर्शन जारी, आगजनी करने वालों को देखते ही गोली मारने का आदेश

Spread the love with your friends

नई दिल्ली: श्रीलंका में इमरजेंसी लागू है हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। हिंसा और आगजनी की खबरे सामने आ रही हैं बीते दिनों प्रदर्शनकारियों ने अधिकारियों और सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओं और मंत्रियों के घरों को आग के हवाले कर दिया था।

जिसके बाद प्रदर्शनों ने दंगों का रूप ले लिया। बढ़ते हिंसात्मक प्रदर्शनों को देखते हुए श्रीलंका के रक्षा मंत्रालय ने सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले या किसी की जान के लिए खतरा बनने वाले व्यक्ति को देखते ही गोली मारने का आदेश जारी किया है। श्रीलंका अब तक के सबसे बुरे आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं।

Sri Lanka crisis
Sri Lanka crisis

प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास के आसपास के इलाकों में भी आग लगा दी थी। गंभीर हालातों को देखते हुए देश की सेना और पुलिस को आपातकालीन शक्तियां दी गई हैं। सेना के लिए मिली इन नई आपातकालीन शक्तियों का मतलब है कि सेना लोगों को पुलिस को सौंपने से पहले 24 घंटे तक हिरासत में रख सकती है। जबकि निजी वाहनों सहित निजी संपत्ति की कभी भी तलाशी ली जा सकती है।

खाने, दवा जैसी चीजों की भयंकर कमी

देश में ईंधन, खाने, दवा और आधारभूत चीजों की भयंकर कमी है। जिसे लेकर बीते एक महीने से भी अधिक समय से आमलोग राजपक्षे परिवार के खिलाफ कोलंबो की सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। बीते सप्ताह तक ज्यादातर प्रदर्शन शांतिपूर्ण थे लेकिन बीते कुछ दिनों से प्रदर्शन हिंसक होते जा रहे हैं। प्रदर्शन कर रहे लोगों की मांग है कि देश में आए भयानक आर्थिक संकट के लिए राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे जिम्मेदार हैं और वो इस्तीफा दें। प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने इस्तीफा देना पड़ा था।

हालांकि इससे भी प्रदर्शनकारियों का गुस्सा शांत नहीं हुआ। मंगलवार को सरकार ने सुरक्षाबलों को ये अधिकार दे दिया है कि अगर कोई व्यक्ति ‘किसी की जान के लिए ख़तरा बनता है’ तो उसे सुरक्षा बल सीधे गोली मार दी जाए। राजधानी कोलंबो की सड़कों पर दसियो हजार थल सेना, नौसेना और वायुसेना के सैनिकों की तैनाती की गई है जो शहर की पेट्रोलिंग कर रहे हैं।

सांसद समेत कई लोगों की मौत

पुलिस के मुताबिक हिंसक प्रदर्शनों में अब तक आठ लोगों की मौत हुई है और 200 लोग हिंसक प्रदर्शनों में घायल हुए हैं। मरने वालों में सत्तारूढ़ पार्टी के सांसद भी बताए जा रहे हैं।


Spread the love with your friends

Leave a Comment

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com