बारिश से उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश का हुआ बुरा हाल वहीं गुजरात के 4 जिलो में किया रेड अलर्ट

Spread the love with your friends

नई दिल्ली: मॉनसून की भारी बारिश से मैदानों से लेकर पहाड़ी राज्यों तक में आफत है। उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश से पहाड़ दरक रहे हैं तो वहीं मैदानी राज्यों में नदियों में उफान से कई जगह बाढ़ के हालात हैं। बता दें कि भारत में मॉनसून के आते ही महाराष्ट्र समेत देश के कई राज्य बदहाल हो जाते हैं।

इन दिनों गुजरात के कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं। जानकारी के लिए बता दें कि इस समय नवसारी में स्थिति सबसे विकट है। वहीं, मौसम विभाग (IMD) ने आज, 16 जुलाई को राजस्थान में भारी बारिश होने की संभावना जताई है। वहीं पश्चिमी भारत में लगातार पांचवें दिन बारिश की मार जारी है। गुजरात के 4 जिलों में आज भी बारिश का रेड अलर्ट है। वहीं, महाराष्ट्र में बारिश से मौत का आंकड़ा 100 के पार पहुंच गया है। भारी बारिश के चलते दक्षिण गुजरात के बांध अब पूरी तरह भर गए हैं।

वहीं, गुजरात से जुड़े मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र राज्यों में भी हो रही बारिश की वजह से बांध में पानी का लेवल तेज़ी से बढ़ रहा है। ऐसे में गुजरात के 207 बांध में से 67 बांध हाई अलर्ट पर हैं। गुजरात के 25 बांध 100 प्रतिशत भर गए हैं। कच्छ में भारी बारिश के चलते 13 बांध फुल हैं। इसके अलावा सौराष्ट्र के 7, दक्षिण गुजरात के 4 और मध्य गुजरात के बांध भी लबालब हैं। गुजरात के 207 बांध में 50.92 प्रतिशत पानी आ गया है।

इसी बीच उत्तराखंड में बारिश से लोगों की परेशानियां बढ़ गई हैं। मुनस्यारी में भारी बारिश के चलते पहाड़ का हिस्सा भरभरा कर सड़क पर आ गया। इसी के साथ-साथ धारचूला से कैलाश मानसरोवर को जाने वाला रास्ता भी बंद है।


Spread the love with your friends

8 thoughts on “बारिश से उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश का हुआ बुरा हाल वहीं गुजरात के 4 जिलो में किया रेड अलर्ट”

  1. Very gold blog! Do yoou hve anny tikps andd hintys for aspirong writers?

    I’m planning too start myy oown site soonn bbut I’m a little lost on everything.
    Wohld you suggest starting with a free platform loke Wordpdess or ggo for
    a paid option? There are so manmy choices out therde
    thnat I’m completely confuserd .. Anny ideas?
    Appreckate it!

    Reply

Leave a Comment

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com